pandya store written update 8 march 2024: pandya store written episode

Pandya Store 16th March 2024 Written Update

pandya store written update 8 march 2024 की शुरूआत इस तरह होती है। फुल एपिसोड अपडेट नीचे देखने को मिल जाएगी।

pandya store written update 8 march 2024 full

Pandya store के आज के एपिसोड की शुरुआत चीकू से होती है मकवाना महिलाएं चीकू से माफी मांग रही होती है किंतु अमरीश un महिलाओं को रोकते हैं और उनसे कहते हैं कि चीकू इतने भी सम्मान के लिए हकदार नहीं है। तभी नताशा चीकू से यह नाटक बंद करने के लिए कहती है और वह चीकू से कहती है की कोई भी मकवाना का घर छोड़कर नही जाएगा। किंतु चीकू सबसे कहता है कि उसे जानें दे नही तो वह पुलिस को बुला सकता है। नताशा चीकू से कहती है कि वह किसी को भी इस घर से जाने नहीं देगी चाहे जो करना पड़े। धवल अमरीश को कुछ पैसे देने आता है, लेकिन बाद में यह सोचकर रुक जाता है कि वह एक दिन सबसे कहकर चला गया था कि वह अब परिवार के लिए मर चुका है। अंबा भी नताशा पर आरोप लगाती है कि वह भी चीकू से मिली हुई है और सारी बातें चीकू को बताकर उसकी मदद करती है।

यह सुनकर सुमन अंबा को बोलती है कि वही अपने सीमा में रहे उसे पार करने की कोशिश न करे। चीकू उससे कहता है कि वह यह ना भूले कि उनकी बेटी आज भी पंड्या की बहू ही है। चीकू अमरीश को बाहर खींचने के लिए उसको तरफ बढ़ता है। लेकिन नताशा जल्दी से घर के बाहर जाकर दरवाज़ा बंद कर देती है जिससे चीकू किसी को भी घर से बाहर न निकाल पाए। धवल अंदर प्रवेश करने में थोड़ा इंतजार कर रहा होता है इसलिए उसने पैसों का लिफाफा अंदर डालने का उपाय सोचा। नताशा ने धवल को चढ़ते हुए देख कर उसे इशारा किया जिससे धवल का संतुलन बिगड़ गया। धवल नताशा को पकड़ लेता है और उसे देखकर मुस्कुराता हैं।

सुमन चीकू से यह सब ड्रामा बंद करने की विनती करती है क्योंकि वह जानती है की कोई भी उसके साथ मकवाना घर में रहना ही भी चाहता है। नताशा धवल से बोलती है कि जब यह पर इतना ज्यादा ड्रामा हो चुका है तो वह बाहर क्यों खड़ा है। यह सुनकर धवल ने नताशा को बताया कि वह अपनी पहली सैलरी अमरीश को देने आया है जिससे उसकी कुछ आर्थिक मदद हो जाए। नताशा धवल से कहती है कि अमरीश को पैसे से ज्यादा परिवार की आवश्यकता है। अमरीश सबसे बोलता है कि वह अपना घर चीकू से वापस ले लेगा । ईशा अमरीश से यह सब बंद करने के लिए कहती है और यह भी भरोसा दिलाती है वह चीकू से बात करेगी। फिर बाद में ईशा अमरीश से कहती है कि वह बहुत स्वार्थी है।

ईशा अमरीश से कहती है कि वह सच में एक स्वार्थी व्यक्ति है।फिर वह कहती है कि चीकू चाहे कैसा भी हो, उसने हमेशा उसका सम्मान किया है। इसलिए वह अपने पति के साथ खड़ी रहेगी। ईशा अमरीश से कहती है कि वह घर छोड़कर चला जाय। और चीकू का हाथ पकड़ लेती है। यह सुनकर अमरीश ईशा से कहता है कि उसे इस घर को बनाने में पूरे 25 साल लग गए है। और फिर उसने चीकू से कहा कि वह चीकू को मकवाना घर से बाहर निकाल देगा। अमरीश भाविन और चिराग से बोलता है कि वो सब घर का दरवाजा खोलने में मदद करें। नताशा चीकू को रोकने के लिए धवल को अपने साथ लाती है।

अमरीश अंबा को समझाता है कि यही जीवन का चक्र है और वो सब उसी मोड़ पे वापस आ चुके हैं जहां से उनकीशुरुआत हुई थी। अमरीश कहता है कि वह मकवाना घर छोड़ देगा और अपने परिवार को साथ लेकर यहां से हमें के लिए चला जाएगा। परिवार का हर सदस्य घर की अपनी पुरानी यादों को डूब जाता है और भावुक विभोर हो जाते है। जैसे ही सभी लोग घर जाने की लिए निकलते हैं, अम्बा रोने लगती हैं। नताशा धवल को बोलती है की वह अमरीश को अपने घर ले जाय। और वह उससे अमरीश के पास जाने के लिए कहती है और फिर उसका हाथ पकड़कर उसे ले जाती है। एपिसोड के अंत में धवल अमरीश को अपनी पहली सैलरी देने के लिए कहता है। और सभी को अपने कमरे में बुलाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *